Gametogenesis


Sexual reproduction करने वाले animals में sex gametes के निर्माण की प्रकिया को gametogenesis कहते है। यह प्रकिया sex gonad के अंदर पाए जाने वाले cuboidal epithelium के cell दारा होता है जिसे germinal cells कहते है। gametogenesis दो प्रकार के होते है:-

Spermiogenesis


Male gamete अर्थात spermatozoa के निर्माण होने की प्रकिया को spermatogenesis कहते है। यह प्रकिया testis में पाये जाने वाले seminiferous tubules के अंदर सम्पन होता है।  इस पूरी प्रकिया को दो अवस्थाओ में बांटा गया है:-


gametogenesis


1. Spermatidogenesis (formation of spermmatids):-  spermmatids  की निर्माण की पूरी प्रकिया को तीन अवस्थाओ में बांटा गया है:-


(a) Multiplication phase:- इस अवस्था में testes के seminiferous tubules में पाये जाने वाले male germinal cells अर्थात primordials cells बार-बार mitosis, cell division द्रारा विभाजित हो कर diploid cells(2n) का  निर्माण करते है जिसे spermatogonia कहते है ।


(b) Growth phase:- इस अवस्था में spermatogonia का आकर बड़ा होने लगता है जिसे primary spermatocyte कहते है जो maturation phase प्रारम्भ करता है ।


(c) Maturaton phase:- इस अवस्था में primary spermatocyte, meiosis| cell division द्रारा विभाजित हो कर दो haploid(n) cells का निर्माण करता है जिसे secondary spermatocyte कहते है/ दोनो secondary spermatocyte भी meiosis|| cell division द्रारा विभाजित हो कर चार spermatids का निर्माण करते है।


2. Spermiogenesis (formation of sperm):- Spermatid के spermatozoa में बदले जाने की प्रकिया को spermiogenesis कहते है ।
एक spermatid एक साधारण अगतिशील और भारी cells के रूप में पाया जाता है। इसमे अनेक जीवित रचना अर्थात mitochondria, golgi bodies, centrioles, nucleus इत्यादि पाया जाता है।



spermatid का nucleus compact हो जाता और spermatozoa के head के अधिकतर भाग का निर्माण करता है।  spermatid  के golgi complex, spermatozoa के head पर एक cap के समान रचना का निर्माण करते है जिसे Acrosome कहते है। सpermatid के mitochondria, spermatozoa के विभिनन भागो का निर्माण करते है इस प्रकार spermiogenesis की प्रकिया सम्पन्न होता है।



Oogenesis


Female gamete अर्थात egg या ova के निर्माण होने की प्रकिया को oogenesis कहते है। यह प्रकिया ovary में पाये जाने वाले primordial germinal cells द्रारा सम्पन्न होता है। इस पूरी प्रकिया को तीन अवस्थाओ में बांटा गया है :-


(a) Multiplication phase:- इस phase में ovary में female germinal cells या primordial cells, mitosis division द्रारा विभाजित होकर ooginia (egg mother cell) केआ निर्माण करते है।


(b) Growth phase:- यह phase, spermatogenesis के growth phase की तुलना में बड़ा होता है/ इस phase में oogonia अत्यधिक बड़ा हो जाता है जिसे primary oocyte कहते है,जो maturation phase प्रारम्भ करता है।


(c) Maturation phase:- इस phase में diploid(2n) primary oocyte meiosis| cell division द्रारा विभाजित होकर दो असमान haploid(n) cells का निर्माण करता है। बड़े cell को secondary oocyte तथा छोटे cell को first polar body कहते है। secondary oocyte, meiosis|| द्रारा विभाजित होकर एक functional egg या ovum और एक second polar body का निर्माण करता है। first polar body भी विभाजित होकर दो छोटे-छोटे polar bodies का निर्माण करती है। इस प्रकार oogenesis की प्रकिया में meiosis के चार products में से केवल एक functional egg में परिवर्तित हो पाता है , शेष तीन non-functional polar bodies में परिवर्तित हो जाते है और अंत: में गायब हो जाते है।


Post a Comment

0 Comments