Menstrual cycle


Primate Female के reproductive tract में होने वाले cyclic परिवर्तन को menstrual cycle कहते है।  एक स्वस्थ महिला में यह cycle लगभग 28 दिनो तक चलता है । इस cycle का सबसे महत्पूर्ण घटना यह है कि स्त्रियो में प्रतिमाह uterus का endometrium टूटकर अलग हो जाता है , जिससे bleeding होता है । इस phase को menstruation , meneses या menstrual period कहते है जो 3-5 दिनो तक चलता है । किसी लड़की कें जीवन काल में पहले menstrual flow कि घटना को menarche कहते है ।  लड़कियो में menarche 11 से 13 वर्ष कि आयु में में उत्पन होता है । किसी महिला कें जीवन में menstrual cycle का हमेशा कें लिये समाप्त हो जाने कि प्रकिया को menopause कहते है । यह साधारणत: 45-50 वर्ष कि आयु में महिलाओ में उत्पन्न होता है । menstrual cycle कि प्रकिया में uterus , vagina , breast और अन्य अंगो में कुछ महत्पूर्ण परिवर्तन होते है ।


menstrual-cycle

Menstrual Cycle In Hindi


Menstrual cycle को तीन अवस्थाओं में बंटा गया है:- 


1. Menstrual Phase or Bleeding Phase or Destruction Phase:- यह phase लगभग 3-5 दिनो तक चलता है । इस phase कें समय uterus में पायें जाने वाले endometrium कि सतह टूटने लगती है और blood vessel कें फटने कें करण blood bleeding होने लगता है । menstruation कें अंत में जो endometrium शेष रह जाता है उसकी मोटाई लगभग 0.5 से 1 mmबताकर होती है ।




2. Proliferation Phase:- इस phase को  follicular phase या proliferation तथा repair कि अवस्था कहा जाता है । यह phase मुख्य रूप से ovarian follicle कें theca intema  द्रारा निकाले जाने वाले estrogen hormone कें नियंत्रण में होता है । इस phase में uterus कें endometrial lining का repairing होता है और uterus में एक functional lining का निर्माण होता है जो निषेचित egg को ग्रहण करने कें लिये आवश्यक होता है । इस अवस्था में graffian follicle , fallopian tube और vagina कें वृदि होती है ।




यह अवस्था साधारणत menstruation कें अंत में ovulation तक चलता है जो लगभग 10 दिनो तक होता है अर्थात (5वें दिन से 14वे दिन) तक चलता है इस अवस्था कें अंत में endometrium कि मोटाई 2-3 mm तक हो जाता है । इस phase कें अंत में या 14वें दिन या menstrual cycle कें मध्य में ovultion सम्पन्न होता है अर्थात् follicle से egg बाहर निकलता है और शरीर का तापमान बढ़ जाता है जो अगले menstrual period तक बढ़ा रहता है ।


3. Secretory Phase:- इस phase में ovulation कें बाद टूटा हुआ follicle , ovary कें corpus luteum में परिवर्तित हो जाता है और progestrone hormone का secretion करने लगता है । यह अवस्था corpus luteum द्रारा निकाले जाने वाले progestrone और estrogen hormone कें नियंत्रण में होता है अत: इस phase को progestational या luteal phase भी कहते है । यह अवस्था uterus कें endometrium को pregnancy और imolantation कें लिये तैयार करता है अत: इस अवस्था को progravid phase भी कहते है।

Structure of human sex gamete
Pregnancy ki puri jankari

यदि स्त्री गर्भवती नही हो पाती है तो इस phase कें बाद menstruation प्रारम्भ हो जाता है अत: इस अवस्था को  premenstrual phase भी कहते है ।यह phase लगभग 13-14 दिनो तक चलता है । इस अवस्था में endrometrium और gland का विकास होने लगता है तथा endometrial gland अत्याधिक जटिल और उभारदार हो जाते है । इस अवस्था कें उपरांत endometrium कि मोटाई 5-7 mm तक हो  जाती है ।


Post a Comment

1 Comments

  1. Very deep Information of Menstrual Cycle Phases and women's period so must read it in detail.

    ReplyDelete